Thursday, May 13, 2010

बेफिक्री

दर्द क्या होता है, बताएँगे किसी रोज़...

कमाल की ग़ज़ल सुनायेंगे किसी रोज़...
 

उड़ने दो परिंदों को आज़ाद फिज़ाओ में...
 

हमारे हुए तो लौट आयेंगे किसी रोज़....

-Sabeena Bee

Google Translated it as

What is painful, tell us a day ...
Ghazal Sunayaeange an amazing day ...
Fijao fly in the liberation of two Parindoan ... 
So while we'll come back some day ....

1 comment: